अलीबाबा ग्रुप के स्वामित्व वाले यूसी ब्राउजर एप को गूगल ने प्लेस्टोर से हटा दिया है। हालांकि, यूसी ब्राउजर मिनी एप अभी भी गूगल प्लेस्टोर पर मौजूद है। इसके लिए भारत सरकार की एक जांच रिपोर्ट का हवाला दिया गया है। वहीं, एप्पल स्टोर पर यह अभी भी उपलब्ध है।

सरकार ने की स्कैनिंग

बताते चलें कि भारत सरकार ने स्कैनिंग में पाया है कि यूसी ब्राउजर एप यूजर का जरूरी डाटा चीन में मौजूद रिमोट सर्वर पर अवैध तरीके से ट्रांसफर कर रहा है। यह भी कहा गया कि फोन से डाटा डिलीट करने के बाद सर्वर उस डाटा का इस्तेमाल करता था।

अब अमेजन की से और भी सुरक्षित होगी होम डिलीवरी, जानें कैसे


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


सात दिनों के लिए हटाया

उधर, यूसी वेब ने एक बयान जारी कर कहा है कि गूगल प्ले ने हमें सूचना दी है कि प्ले स्टोर से यूसी ब्राउजर को 13 नवंबर 20117 से सात दिनों के लिए हटा दिया गया है, क्योंकि इसकी कुछ सेटिंग्स गूगल की पॉलिसी के अनुसार नहीं हैं।

समस्या का किया निदान

यूसी वेब ने कहा, हमने इस पर तत्काल पड़ताल शुरू की और समस्या का निदान कर लिया। इसका नया वर्जन गूगल प्ले पर अपलोड कर दिया गया है और इसके मूल्यांकन का इंतजार कर रहे हैं। अनजान में हुई किसी भी गलती के सुधारने के लिए हम गूगल का सहयोग करेंगे।

सस्ती सी ये सब्जी, आपके दिमाग को बना सकती है सुपर कम्प्यूटर

50 करोड़ लोगों ने किया डाउनलोड

वहीं, यूसी ब्राउजर ने हाल ही में घोषणा की थी कि उसके एप को 50 करोड़ यूजर डाउनलोड कर चुके हैं। क्लिनर पर्किंस द्वारा जारी की गई इंटरनेट ट्रेंड्स रिपोर्ट 2017 के मुताबिक यूसी ब्राउजर भारत में सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाले एप की सूची में छठे स्थान पर है।

भारत में 10 करोड़ सक्रिय यूजर

दूसरी ओर, एंड्रॉयड अथॉरिटी की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में यूसी ब्राउजर के 10 करोड़ सक्रिय मासिक यूजर हैं। बड़ी संख्या में लोग इस प्लेटफॉर्म पर लिखते-पढ़ते रहते हैं।

यह भी जानें

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...