चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी की चंडीगढ़ से सांसद किरण खेर ने रेप केस में विवादित बयान दिया है। उन्होंने लड़कियों को नसीहत देते हुए कहा है कि रास्ते में किसी ऑटो में बैठने से पहले देखना चाहिए कि उसमें कितने आदमी बैठे हैं। ज्यादा लोग हों, तो लड़कियों को ऑटो में नहीं बैठना चाहिए। किरण खेर का बयान चंडीगढ़ रेप केस में आया है।

उन्होंने कहा कि छेड़छाड़ की वारदातें उत्तर भारत में होना नई बात नहीं। रही बात रेप की, तो वो आजकल घरों में भी होते हैं। हालांकि इस गैंगरेप मामले को उन्होंने गंभीर बताया।

किरण खेर का बयान


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


किरण खेर का बयान

जब कोई तीन आदमी बैठे हुए हैं ऑटो के अंदर, तो आपको उसमें नहीं बैठना चाहिए। जब हम छोटे थे और मुंबई आते थे, तो यहां जो भी हमें टैक्सी में छोड़ने आता था, उसे टैक्सी का नंबर दे देते थे। क्योंकि हमें अपनी सुरक्षा की फिक्र खुद थी। लड़कियों को भी अपनी सुरक्षा का ध्‍यान खुद रखना होगा। पुलिस भी अपनी ओर से पूरी मदद करने की कोशिश करती है।

कांग्रेस का हमला

कांग्रेस नेता पवन कुमार बंसल ने कहा, ‘किरन खेर के इस बयान से हैरान हूं। उनसे इस तरह के बचकाने बयान की उम्मीद नहीं थी। किरन को यह सोचना और समझना चाहिए कि चंडीगढ़ में महिलाओं को सुरक्षा कैसे दी जाए।’

क्या था मामला

17 नवम्बर की रात 8.30 बजे 21 साल की युवती ने सेक्टर-36/37 लाइट प्वाइंट पर मोहाली के लिए ऑटो लिया। ऑटो में दो लोग  पहले से बैठे थे। सेक्टर 42 के पेट्रोल पंप से ऑटो में तेल डलवाया गया। ऑटो सेक्टर 53 के जंगल की रोड पर पहुंचा, तो ऑटो चालक और उसके दो साथियों ने युवती का गैंगरेप किया और भाग गए। इस मामले में सेक्टर 36 थाना पुलिस ने केस दर्ज किया। पुलिस ने पेट्रोल पंप से ऑटो चालक की फुटेज निकालकर फोटो जारी की। सेक्टर 49 थाना पुलिस ने ऑटो चालक इरफान को जीरकपुर से पकड़ा था, जबकि पुलिस टीम अन्य दो आरोपियों पोपू और गरीब को उत्तर प्रदेश से पकड़कर लाई। बुडै़ल जेल में बंद इरफान ने कांच पेट में मारकर आत्महत्या की कोशिश की थी।

यह भी देखें

 

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...