कहते हैं मानवता से बढ़कर कुछ भी नहीं होता. शायद ये बात पाकिस्तान को भी समझ आ गई है. इसीलिए आखिरकार कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान झुक गया. पाकिस्तान ने मानवता के अधिकार पर भारतीय नौसेना के ऑफिसर कूलभूषण जाधव की पत्नी से मुलाक़ात करवाने के लिए भारत को प्रस्ताव दिया है. पाकिस्तान ने कहा है कि वह कुलभूषण जाधव की उनकी पत्नी से मुलाकात करवाएगा.

कुलभूषण जाधव पर भारत को इंटरनेशनल जीत मुबारक

कुलभूषण जाधव


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की ओर जारी बयान में कहा गया, ‘पाकिस्तान सरकार मानवता के आधार पर कुलभूषण जाधव की मुलाक़ात उनकी पत्नी से करवाएगा. ये मुलाकात पाकिस्तान में होगी. इस बारे में एक नोट भारतीय उच्चायुक्त को भी भेजा गया है.’

अक्टूबर में पाकिस्तानी उच्चायुक्त सोहैल महमूद ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की थी. लेकिन उस समय उन्होंने मीडिया की उन खबरों को ‘कयासबाजी’बताया था कि दोनों ने कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर भी चर्चा की थी.

मीडिया खबरों में दावा किया गया था कि, सुषमा ने सोहैल से कहा कि द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति के लिए कुलभूषण जाधव के खिलाफ सभी मामलों को खत्म किया जाए और उन्हें वापस भेजा जाए, इसके बाद विदेश मंत्रालय ने बयान जारी किया.

कुलभूषण का मामला

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने अप्रैल में 46 वर्षीय जाधव को कथित तौर पर जासूसी और आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त होने के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी. जिसके बाद मई में भारत की अपील पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने इस फांसी पर रोक लगा दी थी.

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने पुष्टि की थी कि सोहैल महमूद ने 17 अक्तूबर को भारतीय विदेशमंत्री से मुलाकात की थी.’ लेकिन इस मुलाक़ात को उन्होंने नियमित बैठक का हिस्सा बताया था. हाल ही में सोहैल महमूद भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त बने हैं.

जकारिया ने कहा था कि, ‘विदेशमंत्री के साथ वार्ता में द्विपक्षीय संबंधों की रूपरेखा पर चर्चा हुई थी, लेकिन किसी विशेष मामले पर चर्चा नहीं हुई.’ उन्होंने इस बैठक को सौहार्दपूर्ण और सकारात्मक माहौल में हुई बैठक बताया था.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...