लखनऊ: आगरा स्थित विश्वप्रसिद्ध ताज महल को देखने के लिए रोज़ाना हज़ारों लोग आते हैं, कभी कभी तो यह संख्या 50 हज़ार तक भी पहुँच जाती है. ताजमहल पर बढ़ते इसी पर्यटकों के बोझ को कम करने के लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने एक नया आदेश जारी किया है. जिसके अंतर्गत अब ताजमहल में आने वाले पर्यटक वहां 3 घंटे से ज्यादा समय नहीं बिता पाएंगे. यह आदेश 1 अप्रैल से लागू हो जाएगा.

ताजमहल

नए नियम के मुताबिक ताजमहल के टिकट की वैद्यता अब सिर्फ तीन घंटे के लिए होगी. अगर कोई पर्यटक ताजमहल में तीन घंटे से ज्यादा समय बिताना चाहता है तो उसे अतिरिक्त चार्ज यानी ज्यादा पैसे चुकाने होंगे. एएसआई के अधिकारीयों ने बताया है कि अभी इस नियम के लिए रूप रेखा तैयार की जा रही है, क्योंकि नए आदेश को लागू करने और टिकिटों की जांच करने के लिए अतिरिक्त कर्मचारियों की आवश्यकता होगी.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


सीएम योगी आदित्यनाथ ने साफ किए ताजमहल के दाग

नोट‍िस में इसका ज‍िक्र क‍िया गया है क‍ि 17 वीं सदी के प्यार का स्मारक कहे जाने वाले ताजमहल पर भी अब समय का असर द‍िखने लगा है. ऐसे में लंबे समय त‍क इसकी खूबसूरती को बरकरार रखने के ल‍िए यहां आवाजाही सीम‍ित की जा रही है. गौरतलब है कि छुट्टियों में ताजमहल देखने के लिए भारी संख्या में लोग पहुंचते हैं. सफेद संगमरमर की इस इमारत के दीदार के लिए पहुंची भारी भीड़ का प्रबंधन केंद्रीय औद्योगिकी सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के लिए एक बड़ी चुनौती बन गया है.

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...