आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने फिलीपींस गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को किसान के रूप में नजर आए। फिलीपींस की राजधानी मनीला में उन्होंने धान प्रयोगशाला (राइस फील्ड लैब) का उद्घाटन किया तो भारतीय धान की दो किस्मों के बीज भी सौंपे।

प्रधानमंत्री मोदी ने खेत में चलाया फावड़ा

वहीं, मनीला के राइस फील्ड लैब में प्रधानमंत्री मोदी किसान के रूप में भी नजर आए। उन्होंने लैब के खेतों में बाकायदा फावड़ा चलाकर भारत के कृषि प्रधान देश होने पर मुहर लगाई। साथ ही धान की उन्नत किस्मों पर भी चर्चा की।

मोदी के नाम पर राइस फील्ड लैब का नाम

प्रधानमंत्री ने जिस प्रयोगशाला का उद्घाटन किया, उसका नाम भी उन्हीं के नाम पर नरेंद्र मोदी राइस फील्ड लैब रखा गया है। इस मौके पर उन्होंने बताया कि केंद्र बनारस में भी अंतरराष्ट्रीय धान अनुसंधान संस्थान का एक सेंटर स्थापित कर रहा है।

भारत-अमरीका को और करीब लाने में जुटे मोदी और ट्रंप

भारतीय वैज्ञानिकों से प्रधानमंत्री ने की बात

वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने मनीला से करीब 65 किमी दूर अंतरराष्ट्रीय धान अनुसंधान संस्थान का भी भ्रमण किया। इस दौरान मोदी ने कहा कि यह संस्थान अन्न की खेती में सुधार कर भुखमरी को कम कर रहा है। लोस बानोस में स्थित संस्थान में उन्होंने भारतीय वैज्ञानिकों से बात भी की।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...